Monday , January 17 2022

प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में मायावती ने किया बड़ा ऐलान, योगी सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

बहुजन समाज पार्टी(बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने मंगलवार को प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि पिछली सरकारें और वर्तमान में भाजपा की सरकार की जातिवादी सोच है। हर स्थान पर ब्राह्मण का शोषण हुआ है। ब्राह्मण बीजेपी के प्रलोभन में आकर इनकी सरकार बनायी थी, लेकिन इस सरकार में ब्राह्मणों को कुछ नहीं मिला है।

मायावती ने कहा- ब्राह्मण बसपा के साथ

बसपा अध्यक्ष ने कहा कि मेरे निर्देश से सतीश चन्द्र मिश्र प्रबुद्ध वर्ग की संगोष्ठी कर रहे हैं। इस संगोष्ठी को भी विफल करने का सरकार ने प्रयास किया है और इसमें सरकार को हताशा ही हाथ लगी है।

इसके पूर्व बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रबुद्ध वर्ग के सम्मान, सुरक्षा और तरक्की के लिए आयोजित कार्यक्रम को लेकर सतीश चन्द्र मिश्रा और सभी सेक्टर प्रभारियों और जिलाध्यक्षों को बधाई दी और कहाकि प्रबुद्ध वर्ग कार्यक्रम में ब्राह्मण को जुटाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। ब्राह्मण बसपा के साथ है और हम सरकार बनाने जा रहे है।

ब्राह्मण के विरुद्ध लगे गलत आरोप को समाप्त करेंगे

मायावती ने कहा कि यूपी में बसपा की सरकार बनने पर अन्य जाति की तरह ही ब्राह्मण का भी ख्याल रखा जाएगा। जो भी ब्राह्मण के विरुद्ध गलत आरोप लगाये गए हैं, उसे समाप्त किया जाएगा।

महिला वर्ग को तैयार करेंगी डा.सतीश चन्द्र मिश्रा की पत्नी

मायावती ने कहा कि ब्राह्मण समाज को युद्ध स्तर पर मेहनत कर 2022 में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने का कार्य करना है। हर विधानसभा में टीम तैयार करना है। इसमें महिला वर्ग को भी तैयार किया जाएगा और इसके लिए सतीश चंद्र मिश्रा की पत्नी देखेंगी।

ब्राह्मण समाज योगी सरकार से भयभीत

मायावती ने कहा कि बसपा के कथनी करनी में कोई अंतर नही है। जो हम कहते हैं उसे पूरा करते हैं। जनता ने बसपा की सरकारें देखी हैं, हम प्रलोभन देकर कार्य नहीं करते है। सर्वसमाज में ब्राह्मण को हमने पूरा सम्मान देते हुए सरकारों में जगह दी थी। वर्तमान सरकार में दिलदहला देने वाली घटना हुई हैं और आज ब्राह्मण समाज योगी सरकार से भयभीत है।

बसपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने जा रहा ब्राह्मण समाज

मायावती ने कहा कि अब ब्राह्मण समाज बसपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने जा रही है। मेरी अपील है कि अपने परिवार के मान सम्मान, सुरक्षा के लिए विरोधी पार्टियों के हथकंडे में ना आ कर बसपा की सरकार बनाने का कार्य करेंगे।

2022 में सरकार बनी तो संस्कृत विद्यालयों के रिक्त पदों को भरेंगे

मायावती ने 2022 को लेकर ऐलान किया कि उत्तर प्रदेश में बसपा की सरकार बनने पर किसानों के हित में फैसले होंगे। वित्त विहीन शिक्षकों के लिए काम होंगे। संस्कृत विद्यालयों पर कार्य होगा, वहां पर रिक्त पदों को भरा जाएगा।

कांशीराम की पुण्यतिथि पर कार्यकर्ताओं को लखनऊ आने का मिला निमंत्रण

मायावती ने जोर देते हुए कहा कि मान्यवर कांशीराम की पुण्यतिथि पर बसपा कार्यकर्ता कोई कार्यक्रम नहीं रखेंगे। सभी कार्यकर्ता लखनऊ में आयेंगे और यहां कार्यक्रम में कांशीराम को श्रद्धासुमन प्रस्तुत करेंगे। साथ ही कोविड नियम का पालन करेंगे और अनुशासन के साथ आएंगे और जाएंगे। मास्क अवश्य लगाकर आना है और मण्डल स्तर पर इसे निर्देश दिया गया है।

अब बसपा की सरकार बनेगी तो मूर्तियां नहीं बनेंगी, उप्र को ठीक करेंगे

बसपा अध्यक्ष ने जोर देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में अब बसपा की सरकार बनेगी तो मूर्तियां नहीं बनेंगी उत्तर प्रदेश को ठीक किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: गिलानी के निधन के बाद महबूबा ने खोली मोदी सरकार के दावों की पोल, किया बड़ा दावा

‘जय सियाराम, ‘जय भीम’ के लगे नारे

इससे पहले बसपा अध्यक्ष मायावती को महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने भगवान गणेश की मूर्ति और प्रदेश अध्यक्ष भीमराव राजभर ने हाथी भेंट किया। इस दौरान उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों से आए लोगों ने “जय सिया राम” और ‘जय भीम’ का नारा लगाकर माहौल बनाया।