Tuesday , June 22 2021

उत्तराखंड: सात ईकोटूरिज्म प्रस्तावों के लिए 79.83 लाख मंजूर

देहरादून। वन विभाग ने मुख्यमंत्री की वित्तीय वर्ष 2021-22 की घोषणाओं पर संवेदनशाीलता दिखाते हुए सात ईकोटूरिज्म प्रस्तावों को पारित करते हुए 79.83 लाख रुपये की धनराशि को स्वीकृति दे दी है।

गुरुवार को राजपुर रोड स्थित वन विभाग के मुख्यालय में प्रमुख वन संरक्षक राजीव भरतरी की अध्यक्षता में ईकोटूरिज्म कोर कमेटी की बैठक में यह मंजूरी दी गई। बैठक में 79.83 लाख रुपये के 07 स्वीकृत प्रस्तावों पर संबंधित डीएफओ को शीघ्र कार्य पूरा करने के निर्देश दिए गए। 

मुख्यमंत्री घोषणाओं के इन प्रस्तावों में 15.83 लाख की लागत से चन्द्रबनी खालसा में कुमांऊनी मंदिर के पास वन विभाग द्वारा पार्क और दस लाख की लागत से क्यारी नागटिब्बा सुरकण्डा तक ट्रैक रूट का निर्माण किया जाएगा। तराई पश्चिमी वन प्रभाग के अन्तर्गत फांटो क्षेत्र में सफारी जोन बनाने के लिए 15 लाख स्वीकृत किए गए। बार्सू से दयारा बुग्याल एवं रैथल से दयारा बुग्याल वाले ट्रैक रूट का सुदृढ़ीकरण किया जाएगा। 10 लाख रुपये से ऋषिकेश क्षेत्र में संजय झील का सौन्दर्यीकरण कर इसे साहसिक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। भराड़सैंण में ईको ट्रेल/ ईको पार्क की स्थापना के लिए 20 लाख की स्वीकृति दी गई, जबकि नागटिब्बा, एन्दी, बुराष्टी में कैम्पिंग साइट विकास, व्यू प्वाइन्ट निर्माण, नागटिब्बा ताल की सफाई एवं सौन्दर्यीकरण के लिए 19 लाख की स्वीकृति शामिल है।

यह भी पढ़ें: मालदेवता मलबे को लेकर शुरू हुई सियासत, कांग्रेस ने लापरवाही का लगाया आरोप

ईकोटूरिज्म कोर कमेटी के सदस्य सचिव व मुख्य वन संरक्षक ईकोटूरिज्म एवं प्रचार प्रसार डॉ. पराग मधुकर धकाते ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए राज्य सेक्टर ईकोटूरिज्म योजना के अंतर्गत यह धनराशि प्रभागीय वनाधिकारीओं को जारी की जा रही है।