Friday , October 23 2020

पिता की छोड़ी गई सीट पर चुनाव लड़ने को बेताब है बेटी

-आगरा सांसद प्रो. एसपी सिंह बघेल की बेटी ने टूंडला विधानसभ उप चुनाव लड़ने के लिए भाजपा से मांगा टिकट

आगरा । उपचुनाव के लिये उत्तर प्रदेश में सरगर्मियां तेज हो गई है। जिस सीट को पिता छोड़कर चले गए आखिर उसी सीट पर चुनाव लड़ने के लिए अब बेटी ने तैयारी शुरू कर दी है। बेटी ने विधायक बनने के लिए भाजपा से टिकट के लिए आवेदन किया है। दरअसल पूरा मामला फिरोजाबाद जिले की टूंडला विधानसभा में होने वाले उप चुनाव का है।

एसपी सिंह बघेल और उनकी बेटी सलोनी बघेल फोटो: साभार गूगल

यहां उप चुनाव के लिए सभी राजनैतिक दल पूरी तैयारियों में जुटे हैं। इसी विधानसभा से चुनाव जीतकर प्रो. एसपी सिंह बघेल विधायक बने थे। इसके बाद वह इस सीट को छोड़कर आगरा लोकसभा से चुनाव लड़ने गए और जीतकर आगरा के सांसद बन गए। अब इसी सीट से चुनाव लड़ने के लिए प्रो. एसपी सिंह बघेल की पुत्री सलोनी बघेल ने भाजपा से टिकट के लिए आवेदन किया है।

यह प्रत्याशी हुए घोषित

अभी तक बसपा ने संजीव कुमार चक और प्रसपा ने प्रकाश चन्द्र मौर्य को प्रत्याशी घोषित किया है। सपा की ओर से महाराज सिंह धनगर का नाम लगभग तय है केवल घोषणा होना बाकी है। इससे पहले भी महाराज सिंह को टिकट दिया गया था लेकिन चुनाव से पहले ही उनकी टिकट काटकर टूंडला के शिव सिंह चक को दे दी गई थी।

उप चुनाव क्यों हो रहा

टूंडला विधानसभा सीट की बात करें, तो इस सीट पर 2007 और 2012 के विधानसभा चुनाव में बसपा के राकेश बाबू ने लगातार दो बार जीत दर्ज की थी। इससे पहले 2002 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के मोहन देव शंकर ने इस सीट पर जीत दर्ज की। वहीं 2017 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी प्रो. एसपी सिंह बघेल ने यहां से जीत दर्ज की। उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाया गया। फिर पार्टी ने उन्हें आगरा से लोकसभा चुनाव लड़ाया। वे चुनीव जीत गए और टूंडला सीट खाली हो गई। इसी कारण इस सीट पर उपुचनाव हो रहा है।