Sunday , November 29 2020

नगरोटा एनकाउंटर: मिल गया वो रास्ता जिससे आतंकियों ने किया था भारत में घुसपैठ

नगरोटा एनकाउंटर के बाद से लगातार नए-नए खुलासे हो रहे हैं। इसी क्रम में भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने एक और बड़ा खुलासा किया है। दरअसल, देश की सुरक्षा एजेंसियों ने उस रास्ते को खोज निकाला है, जिसकी मदद से एक आतंकवादी पाकिस्तान से भारत के अन्दर घुसने में कामयाब हो गए थे। दरअसल, सुरक्षा एजेंसियों ने दावा किया है कि इन आतंकियों ने भारत में घुसने के लिए सुरंग का इस्तेमाल किया था। यह सुरंग पाकिस्तान के शकरगढ़ से सांबा सेक्टर में बनी थी।

नगरोटा एनकाउंटर के बाद जांच एजेंसी ने किया दावा

पहले शक जताया जा रहा था की नगरोटा एनकाउंटर में मारे गए आतंकियों ने भारत में घुसने के लिए सीमा पर हुई तारबंदी में कुछ छेड़खानी की है। हालांकि, इस शक को खारिज करते हुए सुरक्षा एजेंसियों ने दावा किया है कि सीमा पर तारबंदी के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की गई थी। इन आतंकियों ने भारतीय सीमा में घुसने के लिए सुरंग का इस्तेमाल किया।

इसके साथ ही सुरक्षा एजेंसियों ने इस बात पर भी संदेह जारी किया है कि नगरोटा एनकाउंटर के बाद मिले गोला-बारूद और हथियार पहले से ही ट्रक में रखे थे।

आपको बता दें कि सुरक्षाबलों को आतंकियों के विषय में ख़ुफ़िया जानकारी मिली थी। इस जानकारी के बाद नगरोटा में सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। सुरक्षाबलों ने बान टोल प्लाजा के पास एक नाका लगाया, और आने जाने वाले वाहनों की चेकिंग शुरू की गई। इसी चेकिंग अभियान के दौरान सुरक्षाबलों ने एक ट्रक को रोका। इस ट्रक को रोकते ही इसका ड्राइवर उतरकर भाग गया।

यह भी पढ़ें: ओवैसी ने हिंदुत्व पर उठाई उंगली, मुस्लिमों और दलितों के लिए बुलंद की आवाज

जब सुरक्षाबलों ने ट्रक की तलाशी शुरू की तो इसमें छुपे आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी और जंगल की तरफ भागने लगे। हालांकि सुरक्षाबलों ने आतंकियों के इस हमले का मुंहतोड़ जवाब दिया और चार आतंकियों को मार गिराया। नगरोटा एनकाउंटर में मारे गए इन आतंकियों का सम्बन्ध जैश-ए-मोहम्मद से थे। इस ट्रक में भारी मात्रा में गोलाबारूद और हथियार बरामद हुआ था। आतंकी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में थे।