Friday , September 24 2021

किसान आंदोलन: किसान नेता ने पीएम मोदी को दिया बड़ा सुझाव, सामने रखी चार नई शर्तें

राष्ट्रीय किसान मोर्चा के संयोजक और किसान नेता सरदार बीएम सिंह ने कहा कि तीनों कृषि कानूनों के मुद्दे पर समाधान निकाला जाना चाहिए। सिंह ने गुरुवार को एक बयान जारी कर कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को राष्ट्रीय किसान मोर्चे की तरफ से पत्र लिखा है, जिसमें किसान आंदोलन के समाधान पर सुझाव दिए गए हैं।

किसान नेता ने मोदी को दिया सुझाव

किसान नेता बीएस सिंह ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से अनुरोध किया है कि अगर केन्द्र सरकार इसी संसद सत्र में कृषि कानूनों में चार संशोधन करे तो राष्ट्रीय किसान मोर्चे से जुड़े किसान उसका स्वागत करेंगे।

सिंह ने कहा कि उन्होंने पत्र में प्रधानमंत्री से अनुरोध किया है कृषि कानूनों में चार संशोधन की जरूरत है। किसानों को कानून में एमएसपी की गारंटी मिले। उन्हें कृषि मुद्दों पर कोर्ट जाने की आजादी दी जाए। किसान की जमीन पर कोई करारनामा नहीं होने की गारंटी दी जाने सहित सरकारी खरीद केंद्रों पर फसल का तत्काल भुगतान की गारंटी दी जानी चाहिए।

किसान नेता ने कहा है कि जिन आंदोलनकारियों पर मुकदमें दर्ज किए गए हैं, उसे तुरंत वापस लिए जाएं। प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में उन्होंने अनुरोध किया है कि आंदोलन के दौरान जो किसान शहीद हुए हैं, उनके परिजनों को 10 लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाए। अगर केन्द्र सरकार इन मुद्दों पर काम करेगी तो किसानों का सरकार पर भरोसा बढ़ेगा।

यह भी पढ़ें: नांगल रेप-हत्या के मामले में फंसे राहुल गांधी, पुलिस कमिश्नर से की गई शिकायत

उल्लेखनीय है कि बुधवार को सरदार बीएम सिंह ने नेतृत्व में लगभग 20 राज्यों के 100 से अधिक किसान संगठनों ने मिलकर राष्ट्रीय किसान मोर्चा का गठन किया है। मोर्चे की मांग है कि केन्द्र सरकार इसी संसद सत्र में कृषि कानूनों में संशोधन कर किसानों की समस्याओं का समाधान करे।