Wednesday , May 12 2021

सीएसके से मिली हार की डेविड वॉर्नर ने ली जिम्मेदारी, खुद को बताया गेम में फ्लॉप

चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मैच में सनराइजर्स हैदराबाद की टीम को 7 विकेट से हार का मुंह देखना पड़ा। मैच में हार के बाद हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर ने हार की पूरी जिम्मेदारी खुद पर ली है। डेविड वॉर्नर ने कहा कि मैंने काफी धीमी बल्लेबाजी की, जिसके चलते टीम को हार का सामना करना पड़ा और इस हार की मैं पूरी जिम्मेदारी लेता हूं। बता दें कि डेविड वॉर्नर ने 55 गेंदों पर 57 रनों की पारी खेली। इस पारी में वॉर्नर ने सिर्फ 3 चौके और 2 छक्के लगाए। वहीं उनके साथ बल्लेबाज कर रहे मनीष पांडे ने 46 गेंदों पर 61 रनों कीपारी खेली और 5 चौके व एक छक्का लगाया। टीम एक वक्त ऐसा लग रहा था कि 150 रन तक ही पहुंच पाएगी लेकिन केन विलियम्सन ने 10 गेंदों पर 26 रनों की पारी खेलकर टीम के स्कोर को 171 तक पहुंचाने में मदद की।

मैच के बाद डेविड वॉर्नर ने कहा कि इस हार की पूरी जिम्मेदारी मैं लेता हूं,जिस तरह से मैंने बल्लेबाजी की उसकी वजह से हमे मैच में हार का मुंह देखना पड़ा। यह काफी धीमी पारी थी, मैंने कई शॉट फील्डर के पास मारे और मैं इससे काफी निराशा था।जिस तरह से मनीष पांडे ने अच्छी पारी खेली, वह बेहतरीन थी। केन विलियम्सन ने हमे सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने में मदद की, लेकिन इस हार की पूरी जिम्मेदारी मैं लेता हूं यह कतई अपेक्षा के अनुसार नहीं थी। मैंने तकरीबन 15 शॉट फील्डर के पास मारे, मैं कुछ खास कर नहीं सका। ये शॉट ऐसे थे जो आपकी पारी को बना और बिगाड़ सकते हैं। बतौर बल्लेबाज आप झुंझला जाते हैं जब आपके शॉट को फील्डर पकड़ता है। हमारे पास 170 रन थे लेकिन हम पॉवर प्ले में विकेट नहीं ले सके।

यह भी पढ़ें: भारत की मदद के लिए अमेरिका ने अपने नागरिकों को किया अलर्ट, दिया देश छोड़ने का आदेश

चेन्नई के सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ और फाफ डूप्लेसिस की तारीफ करते हुए वॉर्नर ने कहा कि दोनों ने काफी अच्छी बल्लेबाजी की, लेकिन अंत तक हमने अच्छी लड़ाई लड़ी। ऐसा लग रहा था कि हम विकेट ले सकते हैं, लेकिन चेन्नई हमेशा ही मैच में आगे रही। बता दें कि पहले बल्लेबाजी करने उतरी हैदराबाद की टीम ने 171 रन का स्कोर खड़ा किया था। जिसका पीछा करने उतरी चेन्नई की टीम ने इस लक्ष्य को आसानी से 19वे ओवर में ही हासिल कर लिया। ऋतुराज गायकवाड़ ने 44 गेंदों पर 75 रन की पारी खेली, इस पारी में उन्होंने 12 चौके लगाए, जबकि डूप्लेसिस ने 38 गेंदों पर 56 रनों की पारी खेली और 6 चौके व एक छक्का लगाया। गायकवाड़ को उनकी शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया गया।