Wednesday , January 20 2021

जहरीली शराब बेचने वालों पर नकेल कसने की तैयारी में योगी सरकार, कुर्क करेगी संपत्ति

उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब पीने से लगातार हो रही मौतों को रोकने के लिए सूबे की योगी सरकार बड़ा कदम उठाने जा रही है। खबरों के मुताबिक योगी सरकार अब इस गोरखे धंधे में लिप्त लोगों की संपत्ति कुर्क करेगी इसके साथ ही उन पर जुर्माना भी लगाया जाएगा। योगी सरकार यह बड़ा कदम प्रयागराज में हुई मौतों को देखते हुए उठाया है। सीएम योगी ने निर्देश दिया है कि जहरीली शराब बेचने वालों पर प्रशासन गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करें।  गौरतलब है कि सूबे के प्रयागराज जनपद के फूलपुर में जहरीली शराब पीने से 6 लोगों की मौत हो गई और अन्य पांच लोग गंभीर हालत में इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती हैं।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस मामले में जो भी दोषी पाए जाएं, उनकी संपत्ति को प्रशासन द्वारा जब्त किया जाए और इसके बाद संपत्ति नीलाम कर पीड़ितों को मुआवजा दिया जाए। आपको बता दें कि, प्रदेश में शराब माफियाओं पर नकेल कसने के लिए पुलिस लगातार अभियान चला रही है। वहीं, बीते दिनों पश्चिम उत्तर प्रदेश में पुलिस प्रशासन ने अवैध शराब बेचने के जुर्म में कई शराब कारोबारियों पर शिकंजा भी कसा है।

गौरतलब है कि सूबे के प्रयागराज जनपद के फूलपुर में जहरीली शराब पीने से 6 लोगों की मौत हो गई और अन्य पांच लोग गंभीर हालत में इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती हैं। इससे पहले सूबे राजधानी लखनऊ, मथुरा और फिरोजाबाद में जहरीली शराब से कई लोगों की मौतें हो चुकी हैं। प्रयागराज के फूलपुर में पहली मौत एक पान विक्रेता की बीते गुरुवार रात हुई जबकि पांच अन्य ने शुक्रवार को दम तोड़ा।

यह भी पढ़ें: बड़ी कार्रवाई: गोमती रिवर फ्रंट घोटाले में सीबीआई ने चीफ इंजीनियर को किया गिरफ्तार

प्रियंका गांधी ने उठाए सवाल- आपको बता दें कि जहरीली शराब कांड को लेकर प्रदेश में सियासत भी तेज हो गई है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर योगी सरकार पर निशाना साधा है। प्रियंका ने ट्वीट कर लिखा,  ”यूपी में लखनऊ, फिरोजाबाद, हापुड़, मथुरा, प्रयागराज समेत कई जगहों पर जहरीली शराब से मौतें हुई हैं। आगरा, बागपत मेरठ में जहरीली शराब से मौतें हुई थीं। आखिर क्या कारण है कि कुछ दिखावटी कदमों की बजाय सरकार जहरीली शराब के माफियाओं पर कार्रवाई करने में नाकाम रही है? कौन जिम्मेदार है?”