Tuesday , June 22 2021

कोरोना संकट के बीच गंगा में बन गई लोगों की जल समाधि, प्रशासन ने उठाए कड़े कदम

कोरोना संकट के बीच बिहार के बक्सर के बाद अब उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में भी गंगा नदी में दर्जनों लाशें तैरती मिली हैं। शवों को मिलने के बाद क्षेत्र में हड़कंप मच गया है। क्षेत्रवासियों को महामारी फैलने के खतरे का डर सता रहा है। बहरहाल, जिला प्रशासन ने शवों के मिलने के बाद कार्यवाही शुरू कर दी है। साथ ही जिलाधिकारी ने इस मामले की जांच के लिए टीम का गठन भी कर दिया है।

बिहार में भी घटी हो चुकी है ऐसी घटना

मिली जानकारी के अनुसार, गाजीपुर जिले के गहमर थाना क्षेत्र के नरवा, सोझवा और बुलाकीदास बाबा घाट पर दर्जनों शव किनारे पर मिले हैं। इसके अलावा करण्डा क्षेत्र के कई घाटों पर भी शव नदी में पड़े मिले हैं। गाजीपुर डीएम एमपी सिंह ने बताया कि घटना की जानकारी मिली है, हमारे अधिकारी मौके पर मौजूद हैं और जांच चल रही है। हम यह तलाशने की कोशिश कर रहे हैं कि ये शव कहां से आए हैं। इसके लिए  टीम  भी गठित कर दी गई हैं।

यह भी पढ़ें: बीजेपी अध्यक्ष ने सोनिया गांधी को भेजा पत्र, की कांग्रेसी नेताओं की शिकायत

आपको बता दें कि गाजीपुर का गहमर गांव बिहार के बक्सर जिले से सटा हुआ है। इससे पहले सोमवार को बक्सर जिले के चौसा क्षेत्र के महादेवा घाट पर शव मिले थे। चूंकि गंगा नदी गहमर से होते हुए बिहार में प्रवेश करती है। लिहाजा चौसा के जिला प्रशासन को संदेह है कि ये शव यूपी से बहकर यहां आए हैं।