Monday , January 17 2022

संसद में जारी हंगामे को लेकर विपक्ष पर फूटा मोदी का गुस्सा, जमकर जताई नाराजगी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संसद की कार्यवाही में जारी व्यवधान के लिए विपक्षी दलों को निशाने पर लेते हुए इसे संसद, संविधान और लोकतंत्र का अपमान बताया है। उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ. ब्रायन की ‘पापड़ी चाट’ वाली टिप्पणी को अपमानजनक करार देते हुए नाराजगी जताई।

मोदी ने भाजपा सांसदों से की अपील

संसद भवन परिसर में मंगलवार को भाजपा संसदीय दल की बैठक हुई। संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने बैठक की जानकारी देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने पार्टी संसदीय दल की बैठक के दौरान कहा कि विपक्षी सदस्य की ओर से पापड़ी चाट बनाने वाला बयान अपमानजनक था। इसके साथ ही सदन में पर्चे फाड़कर फेंकना और उसके लिए माफी तक न मांगना विपक्षी दल का अहंकार है।

उन्होंने बताया कि बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने भाजपा सांसदों को संयमित रहते हुए सदन की मर्यादा और गरिमा बनाए रखने की अपील की।

यह भी पढ़ें: संसद में जारी हंगामे को लेकर विपक्ष पर फूटा मोदी का गुस्सा, जमकर जताई नाराजगी

दरअसल, गत सोमवार को तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ. ब्रायन ट्वीट कर बिना चर्चा के विधेयक पारित कराने के लिए केंद्र सरकार की आलोचना की। उन्होंने कहा कि पहले 10 दिनों में मोदी और शाह ने 12 विधेयक पारित कराए और हर विधेयक को महज सात मिनट का समय मिला। यह कानून बना रहे हैं कि पापड़ी चाट। उनके इस टिप्पणी को प्रधानमंत्री ने अपमानजनक करार दिया।