Wednesday , May 12 2021

बाबा के आश्रम में हुई युवती की हत्या, पुलिस पर टूटा लोगों का गुस्सा

हिमाचल प्रदेश के ज़िला ऊना के थाना गगरेट के जाड़ला कोयड़ी गांव में स्थित एक आश्रम में रह रहे सेवादार ने आश्रम आई एक युवती का कत्ल कर शव जमीन में दफ़ना दिया। कुछ दिन से गायब युवती का जब कुछ पता नहीं चला तो परिजनों ने गगरेट पुलिस थाना में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवाई। लेकिन परिजनों को गुमराह करने के लिए सेवादार युवती के मोबाइल फोन से उन्हें संदेश भेज कर युवती के सकुशल होने की बात कहकर उसे न ढूंढने के लिए कहता रहा।

आश्रम में सेवादार ने की थी युवती की हत्या

पुलिस ने जब काल डिटेल निकाली और सेवादार से गहन पड़ताल हुई तो उसने न सिर्फ अपना गुनाह कबूल लिया बल्कि सेवादार की निशानदेही पर पुलिस ने युवती का शव भी बरामद कर लिया। इस घटना से गुस्साए गांववासियों व युवती के परिजनों ने आश्रम का घेराव कर लिया ओर आरोपी को उनके हवाले करने के लिए पुलिस से भिड़ गये। घटनास्थल पर पहुंचे एसपी अर्जित सेन ने लंबी जद्दोजहद के बाद आरोपी को सुरक्षित वहां से बाहर निकाला।

जाड़ला कोयड़ी गांव में स्थित इस आश्रम के संचालक बाबा जग्दीश्वर गिरी जी महाराज कुंभ स्नान के लिए आश्रम की ज़िम्मेवारी अपने सेवादार विकास दुबे पर छोड़कर शुक्रवार को हरिद्वार गए। बताया जा रहा है कि आश्रम के साथ लगते एक घर की युवती नेहा देवी (22 वर्ष) शनिवार दोपहर बारह बजे आश्रम गई और उसके बाद अचानक गायब हो गई। शाम को जब उसकी तलाश शुरू की तो आश्रम का सेवादार भी युवती के यहां आने की बात से मुकर गया। जिस पर परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट गगरेट पुलिस थाना में दर्ज करवाई।

युवती के परिजन अपने स्तर पर भी युवती की तलाश करते रहे लेकिन इसी बीच उन्हें युवती के मोबाइल फोन से यह संदेश आने लगे कि वे उसकी तलाश न करें वह जहां भी है बिलकुल ठीक है। पुलिस ने जब युवती के मोबाइल की लोकेशन के साथ उसकी काल डिटेल निकाली तो यह देखकर दंग रह गई कि युवती की मोबाइल लोकेशन आश्रम के आसपास की थी और युवती व सेवादार की कई बार फोन पर बात हुई थी।

जिस पर जब सेवादार से गहन पूछताछ की गई तो उसके पास से युवती का मोबाइल फोन भी मिल गया और उसने युवती का कत्ल करने की बात भी स्वीकार कर ली। यही नहीं बल्कि उसकी निशानदेही पर पुलिस ने जमीन में दफ़नाई युवती का शव भी बरामद किया। भीड़ ने उस कमरे की खिड़की भी तोड़ डाली, जहां आरोपी को रखा गया था। सेवादार की जान बचाने के लिए पुलिस को खूब मशक्कत करनी पड़ी।

यह भी पढ़ें: कपड़े निकालकर जमीन पर लेटे भाजपा विधायक, पुलिस अधिकारी पर लगाए गंभीर आरोप

इसी बीच हुई पत्थरबाजी में एक एचएचसी, एक होमगार्ड पत्थर लगने से घायल हो गए। बाद में एसपी अर्जित सेन दलबल सहित घटनास्थल पर पहुंचे और युवती के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने के साथ आरोपी को सुरक्षित निकालकर पुलिस ले गई। एसपी अर्जित सेन ने बुधवार को बताया कि पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी सेवादार को गिरफ़तार कर लिया है। मामले की जांच जारी है।