Friday , May 27 2022

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने टीकाकरण का एक साल पूरा होने पर स्मारक डाक टिकट किया जारी

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मंडाविया ने रविवार को कोरोना रोधी टीकाकरण अभियान का एक साल पूरा होने पर स्मारक डाक टिकट जारी किया।

इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि आज का दिन हमारे लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि हमने टीकाकरण अभियान का एक साल पूरा कर लिया है। आज वैक्सीनेशन कार्यक्रम की वर्षगांठ के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करते हुए आईसीएमआर और भारत बायोटेक ने मिलकर जो स्वदेशी वैक्सीन विकसित किया था उस पर डाक टिकट जारी किया गया है। वह इस अवसर पर सभी वैज्ञानिक को हार्दिक बधाई व धन्यवाद देते हैं।

उन्होंने कहा कि दुनिया हमारे टीकाकरण अभियान की सफलता से चकित है। हम 156 करोड़ से अधिक खुराक दे चुके हैं। 18 साल से ऊपर की 93 प्रतिशत आबादी को पहली खुराक का टीका लगाया गया है और 70 प्रतिशता आबादी को दोनों टीके लगाये जा चुके हैं।

उन्होंने भारत के वैक्सीनेशन को दुनिया का सफलतम कार्यक्रम करार दिया है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि टीके आने से पहले ही कुछ लोगों ने भ्रम पैदा करना शुरू कर दिया था, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने पूरी तरह समर्पित होकर हमारे वैज्ञानिकों, कंपनियों को काम और टीकाकरण अभियान जारी रखने के लिए प्रोत्साहित किया।

बसपा नेता की गाड़ी से कानपुर पुलिस ने बरामद की 50 लाख की नकदी

उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष आज ही के दिन देश में वैक्सीनेशन कार्यक्रम की शुरुआत की गई थी। शुरुआत में स्वास्थ्य कर्मियों और अग्रिम पंक्ति के कोरोना योद्धाओं को वैक्सीनेशन दी गई थी। इसके बाद चरणबद्ध तरीके से पहले वरिष्ठ नागरिको, गंभीर रोगियों और वयस्क आबादी के लिए टीकाकरण शुरू किया गया था। इस वर्ष की शुरुआत से 15 से 18 वर्ष कि किशोरों को भी टीका लगाया जा रहा है।