Monday , October 25 2021

राज्य की सड़कें 31 अक्टूबर तक होंगी गड्ढा मुक्त : सतपाल महाराज

देहरादून। लोक निर्माण मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि 31 अक्टूबर तक सभी मुख्य सड़कों को गड्ढा मुक्त कर दिया जाएगा। मंत्री ने इस संबंध में अधिकारियों को कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए।

गुरुवार को यमुना कॉलोनी स्थित प्रमुख अभियंता लोक निर्माण विभाग कार्यालय में लोक निर्माण मंत्री सतपाल महाराज की अध्यक्षता में विभाग की पूर्व निर्णयों की समीक्षा की गई। इसके साथ-साथ उत्तराखंड लोक निर्माण विभाग मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन एवं उत्तराखंड डिप्लोमा इंजीनियर की विभिन्न समस्याओं के समाधान को लेकर बैठक की गयी। मंत्री ने पूर्व में हुई विभागीय समीक्षा बैठकों में लिए गए निर्णय की प्रगति को लेकर विभागीय अधिकारियों से फीडबैक लिया।

मंत्री ने अधिकारियों को कार्यों में तेजी लाने के निर्देश देते हुए बताया कि 31 अक्टूबर तक प्रदेश की सभी मुख्य सड़कों को गड्ढा मुक्त कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पैच मरम्मत का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है। प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्ग सहित 5827 किमी सड़कों को चिन्हित किया गया था। इनमें से 1668 किमी (28.63 प्रतिशत) सड़कों के पैच मरम्मत का कार्य पूरा कर लिया गया है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में ऐसे 30-40 अनुपयोगी पुलों जिनके आसपास नए स्थाई पुल निर्मित किए जा चुके हैं। ऐसे सभी अनुपयोगी पुलों को शौचालय एवं रेस्टोरेंट के लिए उपयोग में लाया जाएगा। इस विषय में सभी मुख्य अभियंताओं से जानकारी मांगी गई है।

लोक निर्माण मंत्री ने कहा कि सड़कों एवं पुलों के निर्माण के दौरान जितने भी मुआवजे लंबित हैं उनका निस्तारण किया जाए। इस कार्य के लिए 125 करोड़ के बजट का प्रावधान किया गया। जिसमें से 35 करोड़ अवमुक्त कर 13.92 करोड़ का भुगतान भी किया जा चुका है।

मंत्री महाराज ने कहा कि पूर्व की बैठकों में निर्णय लिया गया था जिन स्थानों पर मोबाइल कनेक्टिविटी नहीं है उन स्थानों पर कनेक्टिविटी ना होने के साइन बोर्ड लगाए जाएं। विभाग की ओर से मोबाइल कनेक्टिविटी की सूचना के लिए साइन बोर्ड लगाने का कार्य प्रारंभ हो चुका है। पौड़ी जोन में इस तरह के साइन बोर्ड लगाए जा चुके हैं।

लोक निर्माण मंत्री ने बताया कि चारधाम यात्रा मार्गों पर सर्वऋतु परियोजना के अंतर्गत कार्य किया जा रहा है। अनुबंधों में ही नाली निर्माण, रिटेनिंग वॉल बनाए जाने का प्रावधान किया गया है। अधिकांश स्थानों पर 90 प्रतिशत कार्य पूर्ण किया जा चुका है। वर्षां काल में रखरखाव का कार्य संबंधित ठेकेदार द्वारा ही किया जा रहा है।

सतपाल महाराज ने बैठक के दौरान बताया कि सिरोबगड़ में भूस्खलन के कारण सड़क बार-बार बंद हो जाती थी, इसलिए इस स्थान पर 3.72 किमी लंबाई में मार्ग का निर्माण करने के साथ-साथ 3 बड़े पुलों का निर्माण किया जा रहा है। इसके अलावा चारधाम यात्रा मार्ग के अवरूद्ध होने की स्थिति में विभिन्न वैकल्पिक मार्गों के चिन्हीकरण का कार्य तेजी से किया जा रहा है।

बैठक के पश्चात लोक निर्माण मंत्री सतपाल महाराज ने उत्तराखंड लोक निर्माण विभाग मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन तथा उत्तराखंड डिप्लोमा इंजिनियर्स संघ की वर्षों से लंबित समस्याओं का संज्ञान लेते हुए विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया कि तत्काल उनका निदान किया जाए।

उत्तराखंड लोक निर्माण विभाग मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन तथा उत्तराखंड डिप्लोमा इंजिनियर्स संघ के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर लोक निर्माण मंत्री ने बैठक में उपस्थित विभागीय अधिकारियों को समस्या के समाधान हेतु आवश्यक निर्देश भी दिए।

मंत्री महाराज ने कहा कि निर्माण खंड टिहरी को पुनर्स्थापित किया जाएगा। इसके अलावा विभागीय जूनियर इंजीनियर के स्थायीकरण के लिए विभागीय परीक्षा आयोजित की जाएगी। रिक्त पदों के सापेक्ष अधिशासी अभियंता, प्रभारी सहायक अभियंता बनाए जाएंगे।