Monday , January 17 2022

मुख्तार अंसारी की तारीफ़ करते नजर आएं राजभर, मयावती को याद दिलाया उनका पुराना बयान

उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले बीते दिनों बसपा ने बांदा जेल में बंद माफिया डॉन और बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को टिकट नहीं देने का ऐलान किया था। इसी के बाद एआईएमआईएम ने मुख्तार अंसारी को अपनी पार्टी के टिकट से चुनाव लड़ने का आमंत्रण देते हुए जमकर प्रशंसा की थी। इसी क्रम में अब एआईएमआईएम के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ने वाली सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने भी मुख्तार अंसारी की तारीफ़ में कसीदें पढ़ें हैं।

राजभर ने मुख्तार को बताया गरीबों का मसीहा

दरअसल, ओम प्रकाश राजभर ने सोमवार को मुख्तार अंसारी को गरीबों के लिए ‘मसीहा’ बताया। उन्होंने कहा कि पूर्वाचल में चाहे भाजपा हो, सपा, बसपा हो या कांग्रेस नेता, जो भी चुनाव जीतना चाहता है, वह मुख्तार अंसारी से आशीर्वाद लेता है। वह उसके बाद ही चुनाव जीतता है। गरीब, वंचित और वहां के नेता उन्हें एक मसीहा के रूप में मानते हैं और हर कोई इसे जानता है।

राजभर ने आगे कहा कि जब मुख्तार अंसारी 2017 में बसपा में शामिल हुए, तो मायावती ने भी कहा कि वह गरीबों के मसीहा हैं। मैं उनकी बात दोहरा रहा हूं। लोकसभा और राज्य विधानसभा में आधे से ज्यादा सांसद अपराधी हैं। कई लोग हैं जो उनके खिलाफ उंगलियां उठा रहे हैं क्योंकि वह मुस्लिम हैं। बीजेपी, कांग्रेस और बसपा को इस मुद्दे पर आत्ममंथन करना चाहिए।

यह भी पढ़ें: यूपी चुनाव से पहले बीजेपी विधायक ने अखिलेश यादव से की मुलाकात, सपा ने पेश किया बड़ा दावा

आपको बता दें कि बसपा अध्यक्ष मायावती ने हाल ही में घोषणा की थी कि 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अंसारी को उनकी पार्टी द्वारा मैदान में नहीं उतारा जाएगा। उन्होंने दावा किया कि उनकी पार्टी राजनीति के अपराधीकरण की जांच करेगी। 2005 से जेल में बंद मुख्तार अंसारी मऊ विधानसभा क्षेत्र से पांच बार विधायक रहे हैं।