Wednesday , May 12 2021

दूसरे शाही स्नान पर हरिद्वार में उमड़ी लाखों श्रद्धालुओं की भीड़, लगाई आस्था की डुबकी

आस्था के महापर्व कुंभ के दूसरे शाही स्नान सोमवती अमावस्या पर हरिद्वार में लाखों श्रद्धालु पवित्र स्नान के लिए पहुंचे हैं। हर की पौड़ी पर धार्मिक अखाड़ों  का शाही स्नान जारी है।  दोपहर तक श्री पंचायती निरंजनी अखाड़ा, जूना अखाड़ा़ तथा महानिर्वाणी अखाड़े के साधु संतों ने स्नान कर लिया है। अब बैरागी अखाड़ों (निर्मोही, दिगंबर तथा निर्वाणी)  की बारी है।

निरंजनी, जूना तथा महानिर्वाणी अखाड़े के साधु-संतों ने किया स्नान, अब बारी बैरागी अखाड़ों की

श्री पंचायती निरंजनी अखाड़ा ने शाही स्नान कर लिया है। उनके साथ आनंद अखाड़े ने भी शाही स्नान किया है। निरंजनी पीठाधीश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने सबसे पहले गंगा पूजन किया और अखाड़े के इष्ट देव कार्तिकेय भगवान की डोली को गंगा स्नान कराया। निरंजनी अखाड़े के साथ आनंद अखाड़ा के आचार्य बालकानंद गिरी ने भी स्नान किया और उनके साथी साधु संतों ने स्नान किया।

उनका स्नान संपन्न होने के बाद जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी की अगुवाई में जूना अखाड़े के संत महंतों ने पवित्र गंगा में डुबकी लगाई।  जूना अखाड़ा के साथ अग्नि, आह्वान तथा किन्नर अखाड़ा भी स्नान में सम्मिलित हुआ। तीसरे क्रम पर महानिर्वाणी और साथ मे अटल अखाड़े के साधु संत स्नान कर चुके हैं। तीनों बैरागी अखाड़े (निर्मोही, दिगम्बर तथा निर्वाणी) के संत महात्मा हर की पैड़ी में प्रवेश के लिए पहुंच चुके हैं।

यह भी पढ़ें: बंगाल में पांचवें चरण के चुनाव से पहले हुआ बड़ी साजिश का पर्दाफाश, अवैध हथियार बरामद

उधर, कोरोना से बेपरवाह लाखों की संख्या में श्रद्धालु हरिद्वार पहुंचे हैं। जो मार्गों पर खड़े होकर अखाड़ों की स्नान पेशवाई का दर्शन कर रहे हैं और साधु संतों का आशीर्वाद लेने के साथ विभिन्न घाटों पर गंगा मैया में पवित्र स्नान कर रहे हैं। मेला प्रशासन ने दावा किया है कि हरकी पैड़ी सहित अन्य घाटों पर दोपहर 12 बजे तक 21 लाख से ज्यादा श्रद्धालु स्नान कर चुके हैं।