Wednesday , May 12 2021

इस नवरात्रि अपनाएं वास्तु के ये खास उपाय, आएगी घर में खुशहाली, दूर होंगी बाधाएं

नौ दिनों तक चलने वाले पावन उत्सव नवरात्रि में मां दुर्गा  के नौ रूपों की पूजा की जाती है। इन दिनों में भक्त व्रत रखते हैं और मां को प्रसन्न करने का प्रयास करते हैं। इस दौरान मां दुर्गा भक्‍तों को आशीर्वाद देने के लिए घरों में विराजमान होती हैं। नवरात्रि में पूजा करने से नकारात्मक ऊर्जा के अलावा जीवन में आने वाली बाधाएं भी दूर होती हैं और माता की कृपा बनी रहती है। अगर आपके घर में भी नकारात्मक ऊर्जा का वास है, तो नवरात्रि में ये वास्तु उपाय करके घर में सुख, समृद्धि और शांति लाई जा सकती है और दोष को दूर किया जा सकता है।

बनाएं स्वस्तिक का निशान

मान्‍यता है कि नवरात्रि में कुछ खास उपाय करने से घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर हो जाती है। इसके लिए घर के मुख्य द्वार पर स्वस्तिक का निशान बनाएं। इससे घर में खुशहाली आती है और जीवन में आने वाली बाधाएं दूर होती हैं।

ऐसे होगी नकारात्मक ऊर्जा नष्ट

माना जाता है कि घर के मुख्‍य दरवाजे पर आम और अशोक के पत्तों की माला बांधना बहुत शुभ होता है। घर की नकारात्मक ऊर्जा को नष्ट करने के लिए नवरात्रि के दौरान इन पत्तों की माला अपने घर के मुख्य प्रवेश द्वार पर बांध दें। इससे नकारात्मक ऊर्जा दूर हो जाएगी।

मुख्‍य द्वार पर बनाएं ये निशान

इसके अलावा मान्‍यता है कि नवरात्रि के दौरान अपने घर के मुख्‍य प्रवेश द्वार पर लक्ष्मी जी के पैर का निशान बनाना चाहिए। इससे घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है। साथ ही घर में सुख-शांति बनी रहती है और बिगड़े काम भी बनते हैं।

इस दिशा में सजाएं चौकी

वास्तुशास्त्र के अनुसार उत्तर और उत्तर-पूर्व दिशा को पूजा के लिहाज से काफी बेहतर माना जाता है। इसी दिशा में घट स्थापना करनी चाहिए औेर माता की चौकी सजानी चाहिए। इसे शुभ माना जाता है।

यह भी पढ़ें: विराट कोहली के इस फैसले ने आखिरी समय में पलटा मैच, सिराज ने बताई बड़ी वजह

इनके इस्‍तेमाल से बचें

नवरात्रि के दिनों में काले रंग के वस्‍त्र न पहनें और इस रंग के इस्‍तेमाल से बचें। इसमें काले रंग को शुभ नहीं माना जाता। साथ ही मां भगवती की आराधना के स्‍थान की सजावट पर विशेष ध्यान दें। पूजा कक्ष की सजावट हल्के रंगों से करानी चाहिए। इसके अलावा मां की पूजा में लाल रंग के ताजे फूलों का इस्तेमाल करना चाहिए।