Tuesday , June 22 2021

फेसबुक पोस्ट करना बन गया जान की आफत, घर छोड़ने तक की आ गई नौबत

चंदौली : फेसबुक पोस्ट से शुरू हुआ विवाद इस कदर बढ़ा गया कि दबंगों ने घर में घुसकर युवक और उसके परिवार वालों की बेरहमी से पिटाई कर दी। पीड़ित के सिर में गंभीर चोटें आई है।

मुगलसराय कोतवाली पुलिस ने हल्की धाराओं में मामला दर्जकर बात को रफा-दफा कर दिया। मारपीट के आरोपित युवक को कुछ घंटे थाने में बैठाया फिर छोड़ दिया गया। इसके बाद वह फिर से परिवार को धमकी दे रहा है, जिससे खौफजदा पीड़ित परिवार गांव से पलायन की तैयारी में है।

यह घटना बीते आठ जून की है, जहां मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र का बहादुरपुर गांव में रहने वाला युवक दुर्गेश ने फेसबुक पर एक पोस्ट डाली। आरोप है कि फेसबुक पर जाति विशेष को लेकर पोस्ट डालने पर दुर्गेश का पड़ोसी गांव सूजाबाद के युवक अजीत यादव से विवाद हो गया। दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की। इसके बाद युवक गुरुवार को अपने साथियों के साथ दुर्गेश के घर पहुंचा और मारपीट शुरु कर दी। दबंगों ने पूरे परिवार को बेरहमी से पीटा और घर में तोड़फोड़ कर चले गए।

पीड़ित परिवार अपनी शिकायत लेकर कोतवाली पहुंचा तो पुलिस ने काफी देर के बाद आरोपित अजीत यादव और एक अज्ञात के खिलाफ हल्की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर पीड़ित को टरका दिया। कुछ देर बाद दूसरा पक्ष क्रास एफआईआर कराने थाने पहुंचा तो पुलिस ने उसे बैठा लिया। कुछ घंटे बाद वह छूट गया और बाद में फिर पीड़ित युवक को धमकी देने लगा।

पीड़ित दुर्गेश मिश्रा का कहना है कि दबंग युवक और उसके साथी लगातार धमकी दे रहे हैं। अब गांव में रहना मुश्किल हो गया है। हमलोग घर छोड़कर कहीं और जाने की सोच रहे हैं।

यह  भी पढ़ें: मुख्तार अंसारी के नाम से फिर बढ़ी लोगों में दहशत, बड़ी वजह बना योगी सरकार का चाबूक

पीड़ित को न्याय नहीं मिलने पर होगा आंदोलन

भाजपा चिकित्सा प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष डा.केएन पांडेय का कहना है इस पूरे प्रकरण में मुगलसराय पुलिस की लापरवाही सामने आई है। इस संबंध में ब्राह्मण समाज चंदौली एसपी से मिलेगा और पीड़ित को न्याय दिलायेगा। अगर पीड़ित को न्याय नहीं मिला तो आंदोलन किया जाएगा।