Saturday , March 6 2021

शादी समारोह व सार्वजनिक स्थलों पर घर के बुजुर्ग व बच्चे ले जाने से बचें

लखनऊ।  उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को लोकभवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि कोविड-19 के चलते प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,83,557 सैम्पल की जांच की गयी, जो अब तक का सर्वाधिक है। श्री प्रसाद ने सभी से अपील की है कि अपने घर के बुजुर्गों को शादी समारोह/सार्वजनिक स्थलों पर ले जाने से बचें।

यह भी पढ़ें: देव दीपावली 29 नवंबर को, मां गोमती की नित्य आरती के 5475 दिन होंगे पूर्ण

शादी समारोह व सार्वजनिक स्थलों पर घर के बुजुर्ग व बच्चे ले जाने से बचें

प्रदेश में अब तक कुल 1,88,19,807 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 2366 नये मामले आये हैं। प्रदेश में 25,639 कोरोना के एक्टिव मामले हैं। होम आइसोलेशन में 12,455 लोग हैं। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 3,07,814 लोग होम आइसोलेशन की सुविधा प्राप्त करते हुए 2,95,359 लोगों ने अपने होम आइसोलेशन की अवधि पूर्ण कर ली है। उन्होंने बताया कि निजी चिकित्सालयों में 2281 लोग ईलाज करा रहे हैं, इसके अतिरिक्त बाकी मरीज एल-1, एल-2 तथा एल-3 के सरकारी अस्पतालों में अपना ईलाज करा रहे हैं। श्री प्रसाद ने सभी से अपील की है कि अपने घर के बुजुर्गों को शादी समारोह/सार्वजनिक स्थलों पर ले जाने से बचें।

यह भी पढ़ें: कर्मचारियों को एस्मा लगाकर भय दिखाना सरकार का अलोकतांत्रिक कदम: अतुल मिश्र

श्री प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,64,581 क्षेत्रों में 4,67,306 टीम दिवस के माध्यम से 2,94,86,198 घरों के 14,41,71,110 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। प्रदेश में ई-संजीवनी के माध्यम से 24 घंटे में 2579 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श लिया है। अब तक कुल 2,31,742 लोग चिकित्सीय परामर्श ले चुके है। उन्होंने बताया कि आज पूरे प्रदेश में सरकारी/निजी कार्यालयों में फोकस टेस्टिंग करायी जा रही है। श्री प्रसाद ने सभी से अपील की है कि अपने घर के बुजुर्गों को शादी समारोह/सार्वजनिक स्थलों पर ले जाने से बचें।

यह भी पढ़ें: खट्टर ने किसानों से की अपील, कहा- आन्दोलन से कोई हल नहीं निकलने वाला

श्री प्रसाद ने सभी से अपील की है कि अपने घर के बुजुर्गों को शादी समारोह/सार्वजनिक स्थलों पर ले जाने से बचे, उन्होंने कहा है कि विशेषकर बच्चे, बुजुर्ग, गर्भवती महिलाएं तथा पहले से बीमार एवं को-मार्बिड व्यक्तियों को कोविड-19 के संक्रमण से बचाना जरूरी है, क्योंकि उनमें संक्रमण के उपरान्त जटिलताएं आ सकती है। उन्होंने कहा है कि संक्रमण से बचने के लिए आवश्यक है कि आप माॅस्क का प्रयोग करे, हाथ धोए, सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें।