Sunday , November 29 2020

बांदा में सिपाही समेत मां और बहन की हत्या से मचा हड़कंप

बांदा। एक बार फिर से उत्तर प्रदेश के बांदा से दिल दहलाने वाली खबर आई है। यहां कूड़ा फेंकने के मामूली विवाद में शुक्रवार देर रात सिपाही समेत उसकी मां और बहन की हत्या कर दी गई। तिहरे हत्याकांड से जिले में हड़कंप मच गया। सूचना पर आईजी, एसपी समेत अन्य अफसर आनन-फानन मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपित परिवार के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है।

थाना नैनी, प्रयागराज में तैनात सिपाही अभिजीत वर्मा चंद्रोली परशुराम तालाब इलाके में मां रमावती और बहन निशा वर्मा के साथ रहता था। उसके परिवार में एक अन्य भाई सौरभ वर्मा का भी चयन पुलिस में हो चुका है और वह ट्रेनिंग कर रहा है।

यह भी पढ़ें: अबकी भाजपा योगी आदित्यनाथ का चेहरा आगे करके लड़ेगी चुनाव

घटनाक्रम: बांदा में सिपाही समेत मां और बहन की हत्या से मचा हड़कंप

अभिजीत के दोस्त चमड़ा मंडी परशुराम तालाब निवासी दिलीप ने बताया कि रात लगभग 11 बजे अभिजीत का फोन आया था कि बगल में रहने वाले ताऊ के बेटे देवराज और उसके परिवार से झगड़ा हो गया है। दिलीप का घर अभिजीत के घर से 300 मीटर की दूरी पर है। उसके बुलाने पर वह वहां पहुंच गया। दिलीप ने बताया कि देवराज, उसके भाई शिवपूजन, बबलू और घर की एक महिला समेत पांच छह लोगों ने अभिजीत के घर को घेर रखा था। सभी लाठी, डंडे, कुल्हाड़ी और बंदूकों से लैस थे। आरोपितों ने कई राउंड हवाई फायरिंग भी की। उसके बाद अभिजीत और उसके परिजन बाहर निकले। उनके बाहर आते ही आरोपितों ने हमला कर दिया। दिलीप ने उन्हें बचाने का प्रयास किया तो उसे भी मारा-पीटा। उसके सिर, हाथ और पैर में गंभीर चोट आई है। उसके बाद आरोपितों ने लाठी-डंडे और कुल्हाड़ी से अभिजीत और उसके परिवार को मौत के घाट उतार दिया।

यह भी पढ़ें: अटेवा के पेंशनविहीन प्रत्याशियों के चुनाव में उतरने से राजनैतिक दलों की बंधी घिग्घी

जानकारी के मुताबिक सूचना मिलने पर शहर कोतवाल दिनेश सिंह फोर्स के साथ पहुंचे और शवों को उठवाकर जिला अस्पताल भिजवाया। रात में ही दबिश देकर पुलिस ने देवराज समेत उसके भाई शिवपूजन, बबलू और बहन को गिरफ्तार कर लिया। सभी से पूछताछ की जा रही है।