Friday , October 23 2020

जलकल का 320 करोड़ का बजट सर्वसम्मति से पास

नगर निगम सदन

लखनऊ। नगर निगम मुख्यालय के त्रिलोकनाथ हॉल में महापौर संयुक्ता भाटिया की अध्यक्षता में नगर निगम का 19 अरब 30 करोड़ 34 लाख की आय के सापेक्ष 16 अरब 56 करोड़ 26 लाख रुपये के व्यय का बजट एवं जलकल का 320 करोड़ का बजट सर्वसम्मति से पास किया गया।

कोरोना सुरक्षा संबंधी उपकरण खरीदे जाएंगे

महापौर द्वारा पास किये गए बजट में विकास कार्यों को गति दी गयी। वार्ड विकास निधि के माध्यम से समस्त वार्डो में 1.15 करोड़ रुपये के विकास कार्य कराए जाएंगे जिसमे से 5 लाख रुपये प्रतिवार्ड पार्षद कोरोना सुरक्षा संबंधित उपकरण आदि पर खरीद हेतु व्यय कर सकेंगे।

बजट में संस्तुत महत्वपूर्ण कार्य
नाला सफाई – 8.50 करोड़
सफाई उपकरण की खरीद – 13 करोड़
मार्ग प्रकाश- 12.70 करोड़
सड़क नाली मरम्मत- 183 करोड़
शहरी निर्धन हेतु – 20 करोड़
अवस्थापना – 50 करोड़

इसके अतिरिक्त सदन में पास किये गए कुछ प्रस्ताव
सदन द्वारा लखनऊ के रुके हुए विकास कार्यों को गति प्रदान करते हुए प्रगतिधिन एवं अनाराभ कार्य ( टेंडर जारी हो चुका एवं अनुबंध किया जा चुके है) ऐसे 41 करोड़ रुपये के कार्यों की देयताओं को पास कर दिया गया है।

– अमृत योजना एवं स्मार्ट सिटी में महापौर को अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव पास कर शासन को संदर्भित किया गया।

– जलकल द्वारा सभी वार्डों में 2 लाख रुपये प्रति वार्ड पाईपलाइन मरम्मत एवं नए पाईपलाइन निर्माण का कार्य किया जाएगा।

– जलकल के 49 कर्मचारियों के विनिमितिकरण का प्रस्ताव शासन को संदर्भित करने का प्रस्ताव पास हुआ

पार्षद सहित 5 कर्मचारियों को मरणोपरांत कोरोना योद्धा सम्मान

सदन द्वारा कोरोना के दौरान अपने दायित्वों का निर्वहन करते हुए कोरोना के चपेट में आकर मरने वाले पार्षद स्वर्गीय वीरेंद्र जसवानी वीरू और 5 अन्य कर्मचारियों स्वर्गीय राजेश कुमार वर्मा, स्वर्गीय कमल कुमार, स्वर्गीय कविता, स्वर्गीय रामगोपाल, स्वर्गीय गोमती देवी को मरणोपरांत कोरोना योद्धा के सम्मान से सम्मानित किया गया। इनके परिवारजनों को महापौर ने स्मृति चिन्ह, अंगवस्त्र एवं प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।

सदन से पहले हुई कोरोना जांच, मास्क फेस शील्ड उपलब्ध कराई गई
समस्त पार्षदों के लिए सदन से पूर्व कोरोना जांच की व्यवस्था की गई, साथ ही उनको फेस शील्ड और मास्क उपलब्ध कराया गया, सोशल डिस्टेंसिन से बैठाने हेतु पीछे तक कुर्सियां लगाई गई थी। साथ ही अस्वस्थ पार्षदों रुपाली गुप्ता और ताराचंद रावत एवं अस्वस्थ अधिकारी राम नगीना त्रिपाठी ने महापौर से अनुमति ले ऑनलाइन सदन में प्रतिभाग किया।

पारदर्शी व्यवस्था
सदन में मौके पर महापौर ने नगर निगम प्रशासन को बधाई देते हुए कहा कि नगर निगम प्रशासन द्वारा जो अमीनाबाद के पटरी दुकानदारो को वेंडींग जोन मे पारदर्शी व्यवस्था के साथ शिफ्ट करने का कार्य किया है। इसके लिये समस्त नगर निगम परिवार बधाई का पात्र है। इससे अमीनाबाद मे जाम की समस्या से निजात तो मिलेगा ही साथ ही पटरी दुकानदार स्वाभिमान से अपना जीवन यापन कर सकेंगे।
अमीनाबाद के स्थायी दुकानों के सामने लग रही अस्थाई पटरी दुकानों को भी अन्यत्र वेन्डिंग जोन में शिफ्ट किया जाएगा।

क्या बोलीं महापौर

महापौर ने कोरोना काल मे किये गए कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि वतर्मान कोविड महामारी के दौरान हमारे नगर निगम के अधिकारियों कर्मचारियों ने जनता तक अपने सेवाएं जैसे साफ सफाई, सैनिटाईजेशन के साथ ही कोरोना पॉजीटिव व्यक्ति के घर के पास बैरिकेडिंग एवं जरूरतमंदों तक भोजन पहुचाने का कार्य अति सराहनीय है, हमारे सफाई कर्मचारी जो बिना डरे सबसे पहले कोरोना से जंग करते है, हमारे मा० पार्षद जिन्होंने अपने वार्ड की जनता को कोरोना महामारी एवं लॉकडाउन में अपने संसाधनों से राशन और भोजन बांटा, जरूरतमंदों को गैस सिलेंडर उपलब्ध कराया, कोरोना निगरानी समिति के अध्यक्ष होने के नाते कोरोना संक्रमित व्यक्ति को होम आइसोलेशन एवं अन्य आवश्यकताओं की पूर्ति किया। सच्चे मायने में देखे तो सबसे आगे और सबसे पहले कोरोना योद्धा हमारे नगर निगम के पार्षद, अधिकारी और कर्मचारी है। मैं इस सदन के माध्यम से आप सभी का अभिनंदन करती हूँ, वंदन करती हूं।
महापौर ने आगे कहा कि समस्त लखनऊ वासियों का भी धन्यवाद करना चाहूंगी जिन्होने मेरे एक अहवाहन पर हमारे फ्रंट लाइन वारियर स्वछता कर्मियों पर पुष्पार्चान कर उनका उत्साहवर्धन किया।