Wednesday , September 30 2020

पुतली बाई की भूमिका निभाएंगी आभा परमार

पल्लव शर्मा


लखनऊ। वेटरन एक्टर आभा परमार इन दिनों लोकप्रिय शो ‘गुड़िया हमारी सभी पे भारी‘ के नए एपिसोड्स में पुतली बाई की भूमिका निभा रही हैं। वह तीन महीने के अंतराल के बाद शूटिंग पर लौटकर बहुत ज्यादा रोमांचित हैं। एंड टीवी के शो ‘गुड़िया हमारी सभी पे भारी‘ के अलावा आभा परमार कई वेब सीरिज़ पर भी काम रही हैं। आभा से ‘गुड़िया हमारी सभी पे भारी‘ में उनके किरदार के साथ ही अन्य बिंदुओं पर भी बातचीत हुईं।

आभा परमार

पेश उनसे हुई बातचीत के खास अंश—

प्रश्न: तीन महीने के बाद शूटिंग पर वापस लौटकर कैसा महसूस हो रहा है?
आभा- मैं इसे शब्दों में नही बयां कर सकती कि तीन महीने से अधिक लंबे अंतराल के बाद काम पर लौटकर कैसा महसूस हो रहा है। ऐसा लग रहा है जैसे जिन्दगी में एक नई तरह की आजादी मिल गई है। मैंने एक पक्षी की तरह खुद को पिंजरे में महसूस किया था और अब एक बार फिर पंख फैलाकर हम वापस उड़ने के लिए तैयार हैं। हम वही पर हैं जहां हमें सबसे ज्यादा खुशी मिलती है, यानी कैमरे के सामने रहकर अपने दर्शकों का मनोरंजन करना। मैं पुतली बाई के इस नए किरदार के साथ वापस काम पर लौटने के लिए बहुत अधिक उत्साहित हूं। मैं शो में पुतलीबाई का प्रभावशाली किरदार निभा रही हूं जो शो में जल्द ही धमाकेदार एंट्री करने वाली है। सोने जैसा साफ दिल रखने वाली वो फूलन देवी के रूप में सामने आएगी क्योंकि उसके पूर्वज डकैत थे।

प्रश्न: आपको ये किरदार कैसे मिला ?
आभ- किसी किरदार के बारे में सोचा जाता है, तो उसी के अनुसार कलाकार को चुना और उनसे संपर्क किया जाता है। और ऐसे ही मुझसे इस भूमिका के लिए संपर्क किया गया। निस्संदेह इसके लिए मेरा लुक टेस्ट हुआ था जिसके बाद सब आगे बढ़ा।

प्रश्न: क्या आपने इस किरदार के लिए कोई तैयारी की ?
आभा- बिलकुल। जब आपके पास कोई नई भूमिका आती है, तो बतौर कलाकार आप उसमें पूरी तरह समा जाते हो। उस किरदार की बारीकियों, रूप भाव और बोली को अपनाकर उस किरदार में ढल जाते हो। किसी चीज पर ध्यान देना बहुत महत्वपूर्ण है। जब मुझे ये रोल मिला, मैंने रियल और रील दोनों की ऑन-स्क्रीन और ऑफ-स्क्रीन बारीकियों को समझने और उसे चित्रित करने की कोशिश की, जिसने मुझे इस किरदार के लिए पूरी तरह से तैयार करने में मदद की, और मैने इसमें अपनी एक्टिंग स्किल्स शामिल करने की कोशिश की।

प्रश्न: नए एपिसोड्स की कहानी के बारे में संक्षिप्त में बताइए ?
आभा- गुड़िया की शादी हमेशा से उसके परिवार के लिए एक परेशानी का सबब रही है, खासकर उनके माता-पिता राधे और सरला के लिए। पड़ोस में एक नया परिवार गुप्ता परिवार के दरवाजे पर दस्तक देने वाला है या फिर शायद यह सीधा गुड़िया के दिल में पहुंचेगा। लेकिन क्या गुड़िया अपनी अनोखी हरकतों से एक बार फिर खुद को एक असामान्य स्थिति में डाल लेगी? क्या गुड़िया उन पे भी पड़ेगी भारी?

प्रश्न: क्या आप कोई और भी प्रोजेक्ट कर रही हैं ?
आभा- हां, मेरे पास फिल्म और वेब सीरीज के ऑफर्स आए हैं। मैंने कुछ वेब सीरीज के लिए भी साइन किया था, लेकिन उनकी घोषणा होने तक आपको थोड़ा इंतजार करना होगा। फिलहाल मेरे पूरा ध्यान ‘गुड़िया हमारी सभी पे भारी‘ पर है।